[2023] How To Become NASA Scientist In Hindi?

How To Become NASA Scientist In Hindi: वैसे नासा के बारे में यह तो हर कोई जानता है कि नासा यानी नेशनल एयरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन है और यह यूएस की गवर्नमेंट एजेंसी है जो यूएस केएयरोनॉटिक्स शेरू स्पेशल स्पीच प्रोग्राम के लिए रिस्पांसिबल है लेकिन क्या आप जानते हैं कि नासा 1950 मैं एस्टेब्लिश हुई थी और अब Apollo, Pioneer 10 & 11, Voyager 1 & 2 और Hubble Space Telescope (हबल स्पेस टेलीस्कोप) नासा के ग्रेटेस्ट मिशन में से केबल कुछ के नाम है और चाहे चांद पर पहुंच बनानी हो या फिर मंगल पर नासा हमेशा आगे ही नजर आता है ऐसे में इस ग्रेट स्पेस एजेंसी से जोड़ना ही अपने आप में बहुत बड़ा अचीवमेंट हो सकता है और अगर आप साइंटिस्ट बंद करना सा में काम करना चाहते हैं उसके लिए आपको हाइट कंपटीशन को पार करना होगा तब जाकर अपनी एक्सीलेंस के दम पर आप नासा में एंट्री ले सकते हैं और वहां साइंटिस्ट के तौर पर काम करके अपना कॉन्ट्रिब्यूशन दे सकते हैं. लेकिन इसके लिए आपको क्या करना होगा यह जानने के लिए आप इस वीडियो को पूरा देखिए ताकि नासा साइंटिस्ट बनने से जुड़े सभी जरूरी सवालों के जवाब आपको एक ही आर्टिकल में मिल जाए.

How To Become NASA Scientist In Hindi?

नासा में वैज्ञानिक कैसे बनें? | How To Become NASA Scientist In Hindi?

तो चलिए शुरू करते हैं और सबसे पहले आपको यह बताते हैं कि नासा का नाम सुनते ही सबके दिमाग में एस्ट्रोनॉट बनने का थॉट आता है जो वाकई में बहुत ही अच्छा और एक्साइटिंग करियर ऑप्शन होता है लेकिन नासा में एस्ट्रोनॉट बनने के अलावा भी बहुत सारी पोजीशंस पर काम किया जा सकता है जैसे साइंटिस्ट मेडिकल हेल्थ केयर प्रोफेशनल रिसर्च इंजीनियर राइट कंप्यूटर प्रोग्राम और ऐसी और भी बहुत सारी पोस्ट तो अब इस जनरल इन्फो के बाद यह जानते हैं कि नासा साइंटिस्ट का काम क्या होता है और इस पोजीशन पर पहुंचकर आपको कौन-कौन से टास्क करने होंगे तो नासा साइंटिस्ट स्पेस मिशन के लिए रिसर्च और टेस्टिंग तो करती ही है साथ ही यूनिवर्स की मिस्ट्रीज को सॉल्व करने में जुटे रहते हैं जैसी कि यूनिवर्स कैसे काम करता है और क्या दूसरी गैलेक्सीज पर भी लाइफ पॉसिबल है नासा साइंटिस्ट अपने इंटरेस्ट एरिया में स्पेशलाइज होते हैं नासा साइंटिस्ट के तौर पर आपको गैलेक्सी और ब्लैक होल जैसे एस्ट्रोफिजिकल ऑब्जेक्ट की स्टडी करनी हो सकती है या फिर अर्थ के नेबर प्लेनेट और एस्टेरॉइड्स को एक्सप्लोर करना आपका काम हो सकता है.

अब अगर अपना सा साइंटिस्ट बनने के लिए पैशनेट है तो आपको बता दें कि नासा साइंटिस्ट बनने के लिए आपको सबसे पहले यूएस सिटीजनशिप लेनी होगी और अगर आप यूएस सिटीजनशिप नहीं लगते हैं तो आप नासा में वर्क नहीं कर सकते लेकिन उसके अंदर इंटरनेशनल स्पेस पार्टनर के लिए काम कर सकते हैं और नासा में आप चाहे एस्ट्रोनॉट बनना चाहे या इंजीनियर आपको STEM यानी कि स्टीम सेंटर्ड एजुकेशन शूज करनी होगी.

वैसे STEM का मतलब तो अब आप जान ही गए होंगे STEM यानी साइंस टेक्नोलॉजी इंजीनियरिंग एंड मैथ, तो आपके पास मिनिमम क्वालीफिकेशन फिजिक्स, एस्ट्रोफिजिक्स, एस्ट्रोनॉमी, जियोलॉजी, स्पेस साइंस या सिमिलर फील्ड में बैचलर डिग्री होनी चाहिए. इसके अलावा मास्टर्स डिग्री पीएचडी होल्डर होकर अपनी जॉब को बेहतर बना सकते हैं अपने बेसिक या परफॉर्मेंस को बेहतर बनाने के लिए ऐसे बेस्ट इंस्टिट्यूट से ही स्टडी करनी चाहिए जो आपको नासा में अप्लाई करने के लिए तैयार कर सके. क्योंकि नासा में जॉब के लिए अप्लाई करने का मतलब होगा बहुत हाई लेवल का कॉन्पिटिशन आपकी एजुकेशन इतने स्ट्रांग होनी चाहिए कि आप ना केवल अच्छे ग्रेड लाएं बल्कि अपने सब्जेक्ट की रियल मास्टर भी प्रूफ हो सके एजुकेशन लेवल को स्ट्रांग बनाने के साथ-साथ आपको अपनी ओवरऑल पर्सनैलिटी को इंप्रूव करना होगा क्योंकि अगर आप की लीडरशिप स्किल्स और कम्युनिकेशन स्किल्स स्ट्रांग होकर तो आप के चांसेस काफी बढ़ सकते हैं

इसके अलावा कई टीम क्लियर होना भी जरूरी होगा क्योंकि आप अकेले तो रिसर्च नहीं कर सकते आपको इंजीनियर और अदर साइंटिस्ट के साथ मिलकर की टीम वर्क करना होगा, नासा में शुरुआती सैलरी आपकी कॉलेज डिग्री के लेवल ग्रेड प्वाइंट्स स्पेशल ऑनर्स और वह पीरियंस पर बेस्ड होगी. इसलिए शुरुआत से ही बेस्ट परफॉर्म करना शुरू कर दीजिए तो इस क्राइटेरिया को फुलफिल करके अपना समय साइंटिस्ट की पोजीशन के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

तो इस आर्टिकलको पढ़ते रहिए क्योंकि अब हम आपको बताने वाले हैं कि कैसे इंटर्नशिप केसरिया बना सा कोई साइंटिस्ट के तौर पर ज्वाइन कर सकते हैं नासा में एंट्री लेवल जॉब्स के लिए हाई जीपीए, एडवांस डिग्री इंटर्नशिप्स और वर्क एक्सपीरियंस अदर कैंडिडेट से बेहतर साबित कर सकता है. ऐसे में अगर आपको नासा में ही इंटर्नशिप करने का मौका मिल जाए तो नासा में एंट्री लेने और आगे चलकर के नासा साइंटिस्ट बनने का रास्ता खुल सकता है इसलिए हम आपको बताते हैं नासा के इंटर्नशिप प्रोग्राम के बारे में नासा स्कूल स्टूडेंट्स को भी ना सके साथ वह करने की ग्रेट अपॉर्चुनिटी ऑफर करता है जिसके लिए बहुत सारी इंटर्नशिप ऑफर की जाती है.

नासा इंटर्नशिप पाथवेज प्रोग्राम

जिसमें नासा रिलेटेड यूनीक एक्सपीरियंस मिलता है और नासा ऑपरेशंस में कंट्रीब्यूट करने का मौका भी मिलता है नासा के इन इंटर्नशिप प्रोग्राम को पाथवेज प्रोग्राम कहा जाता है यह पाथवेज प्रोग्राम स्कूल इन स्टूडेंट्स को किस पेड वर्क एक्सपीरियंस प्रोवाइड कर आते हैं और रीसेंट ग्रेजुएट स्टूडेंट्स को डायनामिक करियर डेवलपमेंट प्रोग्राम ऑफर करते हैं इन ऑफिस में आपको नासा आप को परमानेंट इंप्लीमेंट मिलने के चांसेस मिल सकते हैं इसके लिए अगर आपके पास कोई एक्सपीरियंस नहीं है फिर भी आप इंटर्नशिप के लिए अप्लाई कर सकते हैं हालांकि एक्सपीरियंस आपको प्रेफरेंस दिला सकता है तो नासा इंटर्न्स मिशन में कंट्रीब्यूट करते हैं ज्यादातर इंटर्न्स को स्टाइपेंड अमाउंट मिलता है जो स्टूडेंट के एकेडमिक लेवल और इंटर्नशिप लेंथ पर बेस्ट होता है और जहां तक पाथवे प्रोग्राम की बात है तो यह है नंबर एक पर नासा पाथवेज इंटर्न एंप्लॉयमेंट प्रोग्राम यानी कि IEP, दूसरा है नासा पाथवेज रीसेंट ग्रैजुएट प्रोग्राम यानि की RGP, और तीसरा है नासा पाथवेज प्रूडेंशियल मैनेजमेंट फेल्लोज प्रोग्राम यानी कि PMF. इनके बारे में एक-एक करके जानते हैं

नासा पाथवेज इंटर्न एंप्लॉयमेंट प्रोग्राम यानी कि IEP

यह करियर प्रोग्राम करंट स्टूडेंट के लिए है यानी स्कूल में रहते हुए अपने करियर को एक्सप्लोर करने का चांस देता है अगर आप इस पाथवेज प्रोग्राम को सक्सेसफुली कंप्लीट कर ले तो आपको परमानेंट एंप्लॉयमेंट या 6 साल तक का टर्म एंप्लॉयमेंट मिल सकता है इस प्रोग्राम के लिए क्राइटेरिया की बात करें तो यूएस सिटीजन होना जरूरी है आपकी उम्र कम से कम 16 साल होनी चाहिए आप रिलेटेड डिग्री या सर्टिफिकेट की स्टडी कर रहे हो और अप मिनिमम 2.9 ग्रेड प्वाइंट अचीव करते हो. ऐसी कई सारी रिक्वायरमेंट मैच होने के बाद आपको इस इंटर्नशिप प्रोग्राम के लिए सिलेक्ट किया जा सकता है आईबी के लिए अवेलेबल ऑपरेशन रिसर्च करने के लिए अप नासा की वेबसाइट पर या फिर डायरेक्टली गूगल या बिग जैसी सर्च इंजन पर यूएसए जॉब्स लिख कर सर्च कर सकते हैं पाथवेज अपॉर्चुनिटी पर विनाश एंट्रॉप्स का पता लगा सकते हैं.

दूसरा है नासा पाथवेज रीसेंट ग्रैजुएट प्रोग्राम यानि की RGP

यह पाथवेज प्रोग्राम रिकॉग्नाइज्ड एजुकेशनल इंस्टीट्यूशंस रिसेंटली ग्रेजुएट हुए ऐसे कैंडिडेट के लिए ऑफर किया जाता है जो अपने करियर की स्टार्टिंग नासा के इस करियर डेवलपमेंट प्रोग्राम में पार्टिसिपेट करके करना चाहते हैं इस 1 साल के प्रोग्राम को अगर आप सक्सेसफुली कंप्लीट कर लेंगे तो आपको परमानेंट या टर्म एंप्लॉयमेंट ऑफर हो सकता है.

इस प्रोग्राम के लिए आप तभी एलिजिबल होंगे जब आप यूएसए सिटीजन होंगे और डिग्रियां सर्टिफिकेट कंप्लीट करने के 2 सालों के अंदर ही अप्लाई कर देंगे. तो यूएसए जॉब्स पर अपना अकाउंट क्रिएट करके आप ऑटोमेटिकली वैकेंसी नोटिफिकेशन रिसीव कर सकते हैं

और तीसरा है नासा पाथवेज प्रूडेंशियल मैनेजमेंट फेल्लोज प्रोग्राम यानी कि PMF

यह प्रोग्राम ऐसे इंडिविजुअल्स के लिए है जो लास्ट 2 सालों में मास्टर या डॉक्टरेट की प्रोफेशनल डिग्री रिसीव कर चुके हो और अगर आप इस प्रोग्राम को सक्सेसफुली कंप्लीट कर ले तो आपको भी परमानेंट एंप्लॉयमेंट या टर्म अनइंप्लॉयमेंट ऑफर हो सकता है इससे जुड़ी सारी जानकारी आपको www.pmf.gov पर मिल जाएगी.

इन तीनों में से किसी भी पाथवेज प्रोग्राम के जरिए नासा में इंटर्नशिप की जा सकती है और अगर आप अच्छे इंटरम साबित हुए तो नशा में साइंटिस्ट के तौर पर काम करने के लिए सिलेक्ट भी हो सकते हैं सिलेक्शन की बात हुई है तो सैलरी की बात हो गई जाए.

नासा में मिलने अली सैलरी

नासा की एवरेज पे सैलेरी $93000 प्रति माह हुआ करती है और पोस्ट के अकॉर्डिंग इसमें वेरिएशन मिलता है. जैसे कि एक रिसर्च एस्ट्रोफिजिसिस्ट को मिलने वाली सैलरी लगभग 97000 से $149000 तक हो सकती है. वही एक फिजिकल साइंटिस्ट को 134000 से $164000 के सैलरी रेंज में अप्वॉइंट किया जा सकता है

दोस्तों अगर आप इस तरह से नासा में न सेंटेड बनने का इरादा रखते हैं तो नासा के इंटर्नशिप पर फोकस करें और उसके लिए एलिजिबल होने की तैयारी करें.

HomePagehirings.org.in

Leave a Comment